शुक्रवार, 22 अप्रैल 2011

चाँद चौखट पर बैठा

चाँद चौखट पर बैठा चांदनी बिखर गयी
आपके चहरे को छूकर चांदनी निखर गयी
रात्रि ने करवट बदलकर आपसे क्या बात की
चंद लम्हे में ही जुल्फें आपकी बिखर गयी

आसमान में सितारे पलकें झपकाते पुकारे
ओ निशा क्या बात है क्यों तुम सिहर गयी
मेरी पलकों ने झपकने से जो किया इनकार
चन्दा की सुन फुसफुसाहटें चांदनी बिफर गयी

एक ऐसा द्वन्द जिसकी ना थी कभी कामना
मेरे और चंदा के बीच कैसे यह छिड़ गयी
आपका सौंदर्य भी दे रहा था चुनौतियां खिलकर
प्यार की प्रांजलता पशोपेश में सिफर भई

चाँदनी को कर प्रखर चंदा बरबस निहारे
आसमान भी झुक गया सितारों की बन गयी
बदलियाँ भी मेरी पलकों पर लगी गुजरने
आप तो सोयी हुयी थीं रात पूरी बहक गयी.
 


भावनाओं के पुष्पों से,हर मन है सिज़ता 
अभिव्यक्ति की डोर पर,हर धड़कन है निज़ता, 
शब्दों की अमराई में,भावों की तरूणाई है
दिल की लिखी रूबाई मे,एक तड़पन है निज़ता.

13 टिप्‍पणियां:

  1. कमाल की रचना। हर लाईन दिल में उतरती है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. सौन्दर्य की चुनौतियां ... रात बहक गई , कमाल का लिखा है

    उत्तर देंहटाएं
  3. मेरी पलकों ने जो ........भावों को अच्छी अभिव्यक्ति , बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  4. एक ऐसा द्वन्द जिसकी ना थी कभी कामना
    मेरे और चंदा के बीच कैसे यह छिड़ गयी
    आपका सौंदर्य भी दे रहा था चुनौतियां खिलकर
    प्यार की प्रांजलता पशोपेश में सिफर भई

    बहुत सुंदर भाव.....

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत ही कोमल भावों से पगी सुंदर रचना के लिए हार्दिक बधाई....

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत सुन्दर कोमल भाव... प्रेम रस में डूबी रचना.......

    उत्तर देंहटाएं
  7. प्यार के कोमल भावों का एहसास कराती बहुत सुन्दर रचना। चंदा और चांदनी की एक नए अंदाज़ में प्रस्तुति।

    उत्तर देंहटाएं
  8. अति सुंदर रचना ,यानी चांद सिफारिश जो करता हमारी देता वो उनको बता.......बहुत खूब कहा आपने धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  9. बढ़िया लिखते हैं आप ...शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  10. रात पूरी बहक गयी..बेहतरीन रचना

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत ही उत्‍तम कोमल भावनाओं से युक्‍त चित्रात्‍मक रचना है। 'रजनीश' होने के नाते इस पंक्ति से जुडाव हो गया। वाह क्‍या बात है ... आप तो सोयी हुयीं थी पूरी रात बहक गयी ..... वाह वाह
    धीरेन्‍द्र जी बहुत कुछ कह गए आप अपनी इस पंक्ति के माध्‍यम से जवाब नहीं आपका । आपकी अंतिम लाइन 'ज़र्ब -ए-मिस्‍ल' के योग्‍य हैं। बधाई स्‍वीकार करें।

    उत्तर देंहटाएं